DFO Full Form in Hindi In 2023 | DFO के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में

What is DFO Full Form?

दोस्तों हम रोज आपके लिए फुल फॉर्म्स लेकर आते हैं जो आपको बहुत ही उपयोगी होते हैं। फुल फॉर्म के साथ साथ हम उसके बारे में सारी डिटेल्स सविस्तार देते हैं। आपके लिए आज हम लाए हैं DFO Full Form In Forest Department यानी कि DFO Full Form को Forest Department मैं क्या कहते हैं?

DFO की सैलरी क्या होती है? DFO में कहां पर पोस्टिंग मिलती है? DFO में काम क्या करना रहता है? कैसे हम DFO बन सकते हैं? यह सभी प्रश्नों का उत्तर हम इस पोस्ट में आपको बताएंगे।

DFO Full Form In Forest Department :

Divisional Forest Officer (DFO)

DFO Full Form In Forest Department in Hindi :

DFO का full form “Divisional Forest Officer (डिविशनल फॉरेस्ट Officer) ” होता है।

DFO full form in forest Department overview:

DFO Full Form “District Forest Officer” के लिए होता है। Forest Department देश का महत्वपूर्ण डिपार्टमेंट है जिससे हमारे नेचुरल रिसोर्सेज की रक्षा की जाती है। हमारे जंगल, वन्य प्राणी, सुरक्षित रहे उसके लिए Forest Department वर्क करता है। DFO का काम भी यही होता है कि वह देश के जो कुदरती संपत्ति है उसे सुरक्षित रखें और देश के वातावरण में फेरफार होने से बचाये।

DFO Full Form In Forest Department

DFO की जिम्मेदारी आती रहती है कि वह देश के National Parks (NP) Tiger Reserve (TR), Wildlife Sanctuaries (WLS) and other Protected Areas (PA) of the country को बचाने का काम करें और उसे सुरक्षित रखें।

DFO के हाथ में बहुत सारी पावर रहती है जैसे कि वह वन विभाग के पुलिस की तरह काम करती है। वह गुनहगारों को सजा भी दिलवा सकते हैं। जो जंगल को और वन्यजीवों को नुकसान पहुंचाते हैं उन्हें वो सजा दिलवाने का काम करते है।

अगर आपने pushpa Movie देखी है तो आपको जरूर याद होगा की Pushpa Movie में जो लोग लाल चन्दन की तस्करी करते है उन्हें Police पकड़ती है। असल में वह Police नहीं होती DFO यानि की Divisional Forest Officer (डिविशनल फॉरेस्ट Officer) (DFO Full Form) होते है जो लाल चन्दन की तस्करी रोकते है। यह उदाहरन हम आपको उस लिए दे रहे है ताकि आपको DFO Full form याद रह जाये।

DFO in forest Department कैसे बने?

Forest Department में आपको DFO बनने कें लिए आपको UPSC Exam पास करनी होगी। एग्जाम पास करने के बाद आपको 2 साल की ट्रेनिंग दी जाएगी। वह ट्रेनिंग आपको Central Government कि कॉलेज Indira Gandhi National Forest Academy मे दी जाएगी। उसके बाद आपको इंडिया के कोई भी स्टेट में पोस्टिंग दी जाएगी।

What is qualification to become a DFO In Forest Department?

फॉरेस्ट डिपार्टमेंट में DFO बनने के लिए आपकी गणित, पर्यावरण, भूगोल, आदि विषयों में अच्छे मार्क्स से पास होना जरूरी है। इस विषय के अलावा आपको भौतिक शास्त्र, रसायन शास्त्र, आदि विषयों में अच्छे मार्क्स से पास होना जरूरी है। और इन्हीं विषयों में से कोई एक विषय में स्नातक डिग्री प्राप्त की हुई होनी चाहिए।

DFO बनने के लिए आयु कितनी होनी चाहिए?

अगर आप जनरल कैटेगरी में आते हो तो DFO बनने के लिए आपकी आयु 21 साल से 31 साल के बीच में होनी चाहिए। अगर आप sc-st मैं आते हो तो उम्र की छूट छार्ट आपको मिलती है।

आशा है आपसे आप अच्छी तरह से DFO Full Form In Forest Department और उसके बारे में सभी जानकारी प्राप्त कर लिए होगे। ऐसी जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट focusyourcareer.in को रोजाना पढ़ें। हमारी वेबसाइट की जानकारी फेसबुक इंस्टाग्राम और ट्विटर के माध्यम से जानने के लिए हमारी वेबसाइट के सोशल मीडिया पेज को फॉलो करें।

Eligibility criteria for becoming DFO Officer.

अगर आपको DFO Officer बनना है तो आपको कुछ एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया है जिसको पार करना पड़ेगा तभी आप DFO बन सकते हैं तो उसके लिए क्या क्या एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया है हम आपको नीचे बताएंगे।

एजुकेशन क्वालीफिकेशन: DFO बनने के लिए आपको ग्रेजुएशन कंप्लीट होना चाहिए। ग्रेजुएशन भी कुछ फील्ड में ही कंप्लीट होना चाहिए जैसे कि पशुपालन, एग्रीकल्चर, हॉर्टिकल्चर, एनवायरमेंटल और जियोलॉजी से अगर आपने ग्रेजुएशन कंप्लीट किया है तो आप इस पोस्ट के लिए एलिजिबल है।

दूसरा इसमें फिजिकल एलिजिबिलिटी यह है कि आपकी ऊंचाई 165 सेंटीमीटर अगर आप पुरुष है तो और अगर आप महिला है तो आप की ऊंचाई 150 सेंटीमीटर होनी चाहिए।

DFO बनने के लिए आयु की बात करें तो अभी गवर्नमेंट ने जारी किया है कि 21 से 30 साल की आयु में आप DFO बन सकते हैं। तो यह थी DFO बनने के लिए एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया। अगर आपके मन में कोई सवाल आता है तो आप हमें कमेंट के जरिए नीचे पूछ सकते हैं।

DFO Exam Syllabus

DFO Exam की सिलेबस की बात करें तो इसमें पर्यावरण स्टडी, जियोलॉजी स्टडी, भारतीय इतिहास, भारतीय भूगोल, भारतीय प्राणियों के बारे में आपको पूछा जा सकता है। अगर आप इसकी बुक खरीदना चाहते हैं तो हम आपको नीचे लिंक दे रहे हैं उस पर जाकर आप अमेजॉन से बुक खरीद सकते हैं।

DFO Full Form and Its Zones

Zones States
Zone 1 अरुणाचल प्रदेश-गोवा-मिजोरम और तत्कालीन जम्मू और कश्मीर राज्य सहित केंद्र शासित प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, राजस्थान और हरियाणा।
Zone 2 उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड और ओडिशा।
Zone 3 गुजरात, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़।
Zone 4 पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम-मेघालय, मणिपुर, त्रिपुरा और नागालैंड।
Zone 5 तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु और केरल।

Indian Forest Service Officers

  • Hari Singh
  • P. Srinivas
  • Sanjiv Chaturvedi
  • Hemendra Singh Panwar
  • Fateh Singh Rathore
  • Maharaj Muthoo
  • M Kamal Naidu
  • Vineet Kumar, IIT
  • Dr Abhilasha Singh

What Benefits does DFO provide to Society and the Environment?

DFO भारत के वनों और वन्यजीव आवासों के संरक्षण की देखरेख करते हैं। वे यह सुनिश्चित करने के लिए जिम्मेदार हैं कि इन संसाधनों का अच्छा उपयोग किया जाता है, साथ ही मानव गतिविधियों से उत्पन्न संभावित खतरे से कमजोर प्रजातियों की रक्षा भी करते हैं।

स्थायी नीतियों के विकास का मार्गदर्शन करके, DFO यह सुनिश्चित करने में मदद करते हैं कि आने वाली पीढ़ियों के पास उन्हीं संसाधनों तक पहुंच हो जो आज हम उपयोग करते हैं। इसके अलावा, वे स्थानीय समुदायों और सरकारी अधिकारियों के बीच एक सेतु के रूप में भी काम करते हैं, जिससे नागरिकों के बीच पर्यावरण शिक्षा और स्थायी प्रथाओं की सुविधा मिलती है।

Is DFO Gazetted Officer?

आपने DFO Full Form के बारे में सारा कुछ जान लिया. अगर आपको Gazetted Officer कौन है यह नहीं पता तो हम उसके बारे में एक पोस्ट बनाएंगे अभी हम आपको शॉर्ट में समझाते हैं कि Gazetted Officer यह होता है कि वह एडमिनिस्ट्रेटिव काम करता है और अपने स्टाफ को मैनेज करता है.

DFO का काम भी वही है वह एडमिनिस्ट्रेटिव लेवल पर काम करता है और अपने स्टाफ को मैनेज करता है इसीलिए उसे गैजेटेड ऑफीसर भी कहा जाता है.

DFO Full Form in Forest Department Salary

DFO Ka Full Form जा नने के बाद आपको मन में यह प्रश्न का उद्भव हुआ होगा कि अगर हम DFO बनते हैं तो हमारी सैलरी कितनी होती है यानी कि आप यह जाने के लिए उत्सुक है कि DFO Salary In Forest Department.

तो हम आपको बता दें कि DFO 1 हाईली पैड जॉब है जिसमें सैलरी के साथ बहुत सारे बेनिफिट भी मिलते हैं जैसे कि अगर आप DFO में ज्वाइन होते हैं तो आपको रहने के लिए घर, इलेक्ट्रिक सिटी, और सरकारी सारी बेनिफिट मिलते हैं. और बात की जाए सैलरी की तो DFO Salary 15000 से लेकर शुरू होती है लेकिन वह जैसे-जैसे एक्सपीरियंस पड़ता है तब सैलरी 50000 के पार हो जाती है.

कोई कोई ऑफिसर की सैलरी स्टार्टिंग में 50000 के ऊपर होती है और जब उसका एक्सपीरियंस बढ़ जाता है तब उसकी सैलरी ₹100000 से ज्यादा होती है.

FAQ’s

  1. DFO अधिकारी क्या करते हैं?

DFO का काम भूमि, समुद्र और वायु द्वारा मछली और वन्य जीवो और लकड़िओ को काटकर ले जाने वालो को पकड़ने का काम करना होता है ।

2. DFO का उद्देश्य क्या है?

DFO का काम मत्स्य पालन को रोकना और वन्य जीवो की रक्षा करना होता है। यह उन सेवाओं और कार्यक्रमों के लिए जिम्मेदार है जो भारत के वन और प्राकृतिक चिजो की सुरक्षा में योगदान करते हैं।

3. वन विभाग में सबसे छोटा पद कौन सा होता है?

वन विभाग में सबसे छोटा पद होता है – फॉरेस्ट वाचर यानी वाइल्डलाइफ गार्ड और सबसे बड़ा पद होता है – हेड ऑफ फॉरेस्ट।

4. What is the power of DFO?

DFO Officer के पास बहुत सारी पावर होती है जैसे कि अगर जंगल में कोई गैर नैतिक कार्य करता है तो उसको इंडियन फॉरेस्ट एक्ट के तहत वह गिरफ्तार भी कर सकते हैं और सजा भी दे सकते हैं।

Read More:

Brijesh इस हिंदी ब्लॉग के Founder हैं. वोह एक Professional Blogger हैं जो SEO, Career, Make Money Online से जुड़ी विषय में रुचि रखते है. अगर आपको ब्लॉगिंग या Internet जुड़ी कुछ जानकारी चाहिए, तो आप यहां बेझिझक पुछ सकते है. हमारा यह मकसद है के इस ब्लॉग पे आपको अछे से अछे जानकारी मिले.

Leave a Comment

JAVASCRIPT============== ''''''''''''''''''''''''''''''''''''''